22 साल की उम्र मे ही करोड़ों की मालकिन है मैथिली ठाकुर

Share

अनूप नारायण सिंह

मैथिली ठाकुर (Maithili Thakur) आज संगीत जगत की एक जानी-मानी हस्ती बन चुकी है। बेहद कम उम्र में मैथिली ठाकुर ने कामयाबी के उस मुकाम को छुआ है, जिसे छूने में कई लोगों को अपनी पूरी जिंदगी लगानी पड़ती है। बिहार की रहने वाली मैथिली ठाकुर (Bihar Girl Maithili Thakur) परिवार की एकलौती सदस्य ही नहीं है, जो संगीत वादन करती है। मैथिली के अलावा उनके पिता (Maithili Thakur Father) और उनके दोनों भाई (Maithili Thakur Brother) संगीत की दुनिया में खासा रुचि रखते हैं।मैथिली ठाकुर की प्रसिद्धि का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि साल 2022 में उनके यूट्यूब चैनल पर 5 लाख से ज्यादा सब्सक्राइब है। इतना ही नहीं इसके अलावा उनके सोशल मीडिया फॉलोअर्स की संख्या भी लाखों में है। बात इंस्टाग्राम की करे तो इंस्टाग्राम पर मैथिली के 4.5 मिलीयन फॉलोअर्स हैं और फेसबुक पर 10 मिलीयन फॉलोअर्स हैं।मैथिली ठाकुर को घर में तनु नाम से बुलाया जाता है। मैथिली अपने परिवार के साथ दिल्ली में ही रहती हैं। संगीत का सफर मैथिली ने 4 साल की उम्र से शुरू किया था और साल 2011 में उन्हें पापुलैरिटी तब मिली, जब वह लिटिल चैंप्स में नजर आई। हालांकि इस दौरान उन्हें शो से रिजेक्ट कर दिया गया था।6 बार रियलिटी शो से रिजेक्शन झेलने के बाद साल 2015 में मैथिली जीनियस सिंगिंग स्टार का खिताब अपने नाम करती दिखाई दी। इसके बाद साल 2017 में मैथिली ठाकुर ने राइजिंग स्टार में भी खास जगह बनाई। इस रियलिटी शो से मैथिली ठाकुर को जो कामयाबी और पापुलैरिटी मिली उसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।भारतीय संगीत के अलावा मैथिली ठाकुर बॉलीवुड के कवर सॉन्ग भी गाती है। मैथिली अपने परिवार की इकलौती ऐसी सदस्य नहीं है, जिनकी संगीत गायन में रुचि हो। मैथिली ठाकुर की फैमिली में उनके पिता रमेश ठाकुर भी एक अच्छे संगीतकार है। इसके अलावा उनके दोनों छोटे भाई ऋषभ ठाकुर और अयाची ठाकुर भी तबला वादन में काफी लोकप्रियता बटोर चुके हैं।
मैथिली ठाकुर ने अपने शुरुआती पढ़ाई गांव में की थी, लेकिन जब परिवार दिल्ली शिफ्ट हो गया तो वह है पढ़ाई के लिए दिल्ली आ गई। मैथिली ने अपने शुरुआती पढ़ाई बाल भवन इंटरनेशनल स्कूल से की है। इसके बाद उन्होंने अपने कॉलेज की पढ़ाई आत्मा राम सनातन धर्म कॉलेज दिल्ली यूनिवर्सिटी से की है।मैथिली ठाकुर संगीत वादन से ही कमाई नहीं करती हैं ,बल्कि वह कई सारे विज्ञापन के जरिए और कई कंपनियों के जरिए भी अच्छी खासी कमाई करती है। हालांकि मैथिली ठाकुर का ज्यादातर फोकस अपने संगीत करियर की तरह ही रहता है। मैथिली ठाकुर का मेन इनकम सोर्स संगीत वादन ही है। अपने यूट्यूब चैनल के जरिए भी मैथली करोड़ों में कमाई करती है। इसके अलावा वह सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए भी वह लाखों में कमाती है।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!