गढ़वा: विधायक आलोक चौरसिया ने कहा- झामुमो सरकार मतलब जंगल राज समझा जा सकता है

Share

अतुलधर दुबे

गढ़वा: भाजपा गढ़वा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश केशरी की अध्यक्षता में एक प्रतिनिधिमंडल गढ़वा जिला के वर्तमान हालात पर उपायुक्त गढ़वा से मिला। मिलकर उपायुक्त के माध्यम से राज्यपाल झारखंड को मांग पत्र सौंपा।
मांग पत्र में बरडीहा, बंशीधर नगर सहित पुरे जिले भर में बढ़ रहे अपराध अत्याचार को लेकर मांग पत्र सौंपा गया। मौके पर संबोधित करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश केशरी ने कहा कि झामुमो सरकार में चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है.जनता त्राहि त्राहि कर रही है.सरकार अपनी सुख सुविधा में लगा हुआ है.हेमंत सरकार तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है.गढ़वा जिला सहित पुरे झारखंड में अपराधियों का बोलबाला हो चुका है.हर जगह हर दिन लुट हत्या बलात्कार की घटना आम बात हो चुका है.गढ़वा जिले में महिलाएं असुरक्षित हो चुकी है.शिक्षा व्यवस्था चौपट हो चुका है.उन्होंने कहा कि गढ़वा में झामुमो विधायक बनने से जनता पर अत्याचार बढ़ा है.हेमंत सरकार का अपराधियों पर कोई नियंत्रण नहीं है.जिस तरह से बरडीहा में दलित परिवार के साथ समुदाय विशेष के लोगों के द्वारा अत्याचार किया गया.इससे यह साबित होता है कि यह सरकार जनविरोधी है.प्रतिनिधिमंडल में शामिल डालटनगंज भंडरीया विधायक आलोक चौरसिया ने कहा कि झारखंड में भाजपा सरकार ही व्यवस्था में सुधार कर सकता है.जिस तरह से गढ़वा पलामू सहित पुरे झारखंड में अपराध बढ़ा है.इससे यह साबित होता है कि वर्तमान सरकार अपराध को लेकर गंभीर नहीं है.गांव शहर में बेटीयां सुरक्षित नहीं हैं.महिला अत्याचार बड़े पैमाने पर बढ़ा है.हत्या लुट बलात्कार की घटना से आम जनता त्रस्त हो चुका है.उन्होंने कहा कि झामुमो सरकार मतलब जंगल राज समझा जा सकता है.झारखंड में झामुमो सरकार ने अपराधियों को बढ़ावा दिया है. प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रूप से भाजपा जिला मिडिया प्रभारी विवेकानंद तिवारी, भाजयुमो जिलाध्यक्ष रितेश चौबे, जिला मिडिया प्रभारी लक्ष्मीकांत पाण्डेय सहित अन्य कई लोग मौजूद थे।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!