गढ़वा: अंकिता की निर्मम हत्या राज्य में कानून व्यवस्था के बिगड़ते हालात व जंगलराज का प्रमाण : राजीव राज तिवारी

Share

प्रदेश मीडिया सह प्रभारी राजीव राज तिवारी

अंकिता हत्याकांड की उच्च स्तरीय जांच कराने व इस कांड में शामिल दोषियों को फांसी की सजा दिलाने की मांग

गढ़वा: अंकिता हत्याकांड को लेकर भाजपा के प्रदेश मीडिया सह प्रभारी राजीव राज तिवारी ने हेमंत सरकार पर जमकर निशाना साधा है। झारखंड के दुमका में एक विशेष समुदाय के द्वारा छात्रा अंकिता सिंह की निर्मम हत्या किए जाने को लेकर उन्होंने जताते हुए प्रदेश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने एक बयान जारी कर कहा है कि अंकिता की निर्मम हत्या राज्य में कानून व्यवस्था के बिगड़ते हालात व जंगलराज का प्रमाण है।

उन्होंने कहा कि हेमंत सोरेन की सरकार अपनी कुर्सी बचाने में लगी हुई है, जबकि राज्य के विधि व्यवस्था पूरी तरह चौपट हो गयी है। अपराधी इस तरह की घटना को अंजाम दे रहे हैं जिससे आम आवाम का सरकार के ऊपर से भरोसा उठ गया है। श्री तिवारी ने कहा कि जिसने निर्मम तरीके से अंकिता को जिंदा जलाया गया है, उसकी जितनी भी निंदा की जाए वह कम होगी। यह सरकार की अदूरदर्शिता व कुव्यवस्था का परिचायक है। जिसे प्रदेश की जनता कभी स्वीकार नहीं करेगी और ना ही इस कृत्य के लिए हेमंत सरकार को माफ करेगी।

उन्होंने अंकिता हत्याकांड की उच्च स्तरीय जांच कराने व इस कांड में शामिल दोषियों को फांसी की सजा दिलाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड राज्य के हालात बद से बदतर हो गए हैं। सरकार और सरकार के मंत्री सरकार को बचाने की कवायद में जनता के हित को छोड़कर लगे हुए हैं, जिससे जनता का कोई काम नहीं हो पा रहा है. श्री तिवारी ने कहा कि हेमंत सरकार अब तक राज्य की जनता को छोड़ने का काम किया है उन्होंने राज्य की जनता के साथ जो वादा किया था वह कोसों दूर है। ऐसे में आने वाले समय में प्रदेश की जनता इसका करारा जवाब देगी।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!