कांडी: प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम के तहत एकदिवसीय शिविर का आयोजन

Share


कांडी(गढ़वा) : प्रखण्ड कार्यालय परिसर में मंगलवार को प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम के तहत एकदिवसीय शिविर का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता गढ़वा उपायुक्त रमेश घोलप ने की। वहीं सभी विभागों के लिए अलग अलग स्टॉल लगाया गया था। श्रम नियोजन प्रशिक्षण विभाग, कृषि पशुपालन व सहकारिता विभाग, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, ग्रामीण विकास विभाग, जिला सामाजिक सुरक्षा व कोषांग विभाग, मुख्यमंत्री पशुपालन विकास योजना, राजस्व भूमि सुधार विभाग, बाल विकास परियोजना, स्वास्थ्य विभाग सहित दर्जनों विभाग का स्टॉल लगा हुआ था। 77 सखी मण्डल कैश क्रेडिट लिंक के रूप में प्रदत राशि 1 करोड़ 32 लाख का चेक प्रदान किया गया। 103 सखी मण्डल को चक्रीय निधि प्रदत राशि 15 लाख 45 हजार रुपए चेक के माध्यम से प्रदान किया गया। 132 सखी मण्डल को सामुदायिक निवेश कोष प्रदत राशि 66 लाख रुपए चेक के माध्यम से परिसम्पत्ति प्रदान किया गया। इससे पूर्व प्रखण्ड विकास पदाधिकारी सह अंचलाधिकारी मनोज कुमार तिवारी ने बुके देकर गढ़वा उपायुक्त रमेश घोलप का स्वागत किया गया। वहीं उपायुक्त ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुवात की। इसके बाद कांडी मुखिया विजय राम ने लिखित आवेदन देकर कांडी नदी पर किए गए अतिक्रमण को मुक्त करने व फैली गंदगी की साफ-सफाई कराने की मांग की। कांडी हल्का कर्मचारी बेलाशिष केरकेट्टा, सीआई जगरनाथ मांझी, सीओ मनोज कुमार तिवारी से इस विषय के संदर्भ में पूछताछ की गई। वहीं एक सप्ताह के भीतर उक्त नदी को अतिक्रमण मुक्त व साफ-सफाई कराने का निर्देश दिया गया। कांडी इस्लामिया कमिटी के लोगों द्वारा कब्रिस्तान के पास स्थित सरकारी शराब दुकान को स्थानांतरण कराने की मांग की। मझिगावां गांव निवासी बिरेन्द्र चौबे द्वारा गांव के बीच पुरानी तालाब को मरम्मती कराने की मांग की गई। जिस पर उपायुक्त ने कहा कि अमृत सरोवर योजना के तहत उक्त तालाब की मरम्मती की जाएगी। बलियारी गांव निवासी प्रदीप कुमार दुबे द्वारा लिखित आवेदन देते हुए शिकायत की गई कि 5 वर्ष पूर्व बनाए गए गाय शेड योजना पूर्ण होने के बाद भी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी व प्रखण्ड कार्यक्रम पदाधिकारी द्वारा जान बूझ कर राशि की भुगतान अभिकर्ता को नहीं कराई गई। इस पर उपायुक्त ने कड़ा निर्देश देते हुए 5 दिनों के भीतर राशि का भुगतान नहीं हुआ तो प्रखण्ड कार्यक्रम पदाधिकारी कमलेश कुमार पर कड़ी कार्यवाई की जाएगी। बहेरवा गांव निवासी कामेश्वर सिंह की पत्नी कमला देवी के नाम पर केवाला का मोटेशन नहीं करने को लेकर सीआई व कर्मचारी पर आपत्ति जताते हुए स्पष्टीकरण देने का निर्देश दिया। कर्पूरी चौक से धोबी मुहल्ला तक नली नहीं बनने के कारण सड़क पर जल जमाव को लेकर ग्रामीणों की मांग पर उपायुक्त ने विभागीय पदाधिकारी से बात कर एक माह के भीतर नाली निर्माण कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिया। वहीं दर्जनों ग्रामीणों ने राशन कार्ड बनवाने का आग्रह किया। जिस पर उपायुक्त ने कहा कि इसके लिए एक लक्ष्य होता है। किसी का नाम कटेगा तो दूसरे का नाम जुड़ेगा। राजकीय कृत मध्य विद्यालय सुंडिपुर की भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराने का निर्देश दिया। वहीं उपायुक्त ने झोलाछाप डॉक्टरों पर कड़ी तंज कसते हुए कहा कि इस प्रखण्ड में जितने भी अवैध व निजी क्लिनिक चल रहा है वैसे झोला छाप डॉक्टरों पर कानूनी कार्यवाई करते हुए जेल भेजने की बात कही। वहीं मत्स्य विभाग द्वारा अजय चौधरी व जमींदारी चौधरी जाल देते हुए मछलियों का आहार भी वितरण किया गया। इसके बाद उक्त आयोजित शिविर से निकलकर सभी जनप्रतिनिधियों के साथ प्रखण्ड कार्यालय के सभागार में बैठक की गई। जहां प्रखण्ड बिस सूत्री अध्यक्ष चंद्रशेखर उपाध्याय उर्फ विकास उपाध्याय ने कहा कि कांडी प्रखण्ड मुख्यालय स्थित अस्पताल केवल 6 घण्टे ही खुला रहता है। उन्होंने उक्त अस्पताल को 24 घण्टे खुला रहने का आग्रह किया। जबकि खुटहेरिया मुखिया अनिता देवी ने कहा कि मेरे पँचायत के कोदवड़िया गांव में अभी तक भी बिजलीकरण नहीं हुई। इस प्रकार कई जनप्रतिनिधियों ने अपने अपने पँचायत की समस्या रख समाधान की मांग की।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!