पेट और गैस की छोटी बीमारी ले सकता है विकराल रूप : डा. आदित्यवर्द्धन सिंह

Share



गढ़वा : क्लीनिक ऑन स्क्रीन गढ़वा जैसे पिछड़े इलाके में सुपर स्पेशलिटी डॉक्टर को बुलाकर स्वास्थ्य के क्षेत्र में सेवा का मिशाल पेश कर रहा है। इसके इस प्रयास से दूर दराज के लाचार एवं गरीब मरीजों को बड़ी राहत मिल रही है। इसी कड़ी में रांची के पल्स सुपर स्पेशलिटी एवं पारस हॉस्पिटल के कंसलटेंट सुप्रसिद्ध गैस्ट्रोइंट्रोलॉजिस्ट, एमडी मेडिसिन, गोल्ड मेडलिस्ट डा. आदित्यवर्द्धन सिंह शनिवार को जिला मुख्यालय के चिनियां रोड स्थित क्लीनिक ऑन स्क्रीन में गढ़वा के मरीजों का इलाज किया।


इस रोग के विषय में डा. आदित्यवर्द्धन सिंह ने मीडिया को बताया कि यह पाचन तंत्र, अग्नाशय, पेट, लीवर, गालब्लाडर में आने वाले गड़बड़ी अथवा समस्या गैस्ट्रो के अधीन आता है। छोटी एवं मामूली समझे जाने वाले इस रोग से बड़ी बीमारी उत्पन्न हो सकती है। इस बीमारी का लक्षण ज्यादा गैस बनना, छाती में दर्द, खट्टा डकार, पेट में दर्द, पतला पैखाना, पीलिया, काला पैखाना होना आदि है। इस रोग से बचने के लिए हेल्दी लाईफस्टाईल वजन संतुलन जरूरी है। इसके लिए तेल, मसाले, घी एवं फैटी भोजन पर कंट्रोल करना आवश्यक होता है।

*आधा घंटा एक्सरसाईज जरूरी*
डा. आदित्यवर्द्धन सिंह ने कहा कि गैस्ट्रो बीमारी से बचने के लिए कम से कम आधा घंटा एक्सरसाईज जरूरी है। दौड़ने, टहलने के साथ-साथ मसल का एक्सरसाईज भी आवश्यक है। एक्सरसाईज से मेटाबॉलिक बढ़ जाता है एवं फैट को दूर करने में मदद करता है, लेकिन खान-पान पर कंट्रोल ज्यादा आवश्यक है। हेल्दी फूड के रूप में दाल, दही, पनीर, सोयाबीन, हरी सब्जी, साग, सत्तु लेना जरूरी है। तेल, घी, चीनी, चावल से परहेज एक उम्र के बाद जरूरी हो जाता है।


*हर प्रिप्सक्रिप्सन में गैस की दवा देना जरूरी नहीं*
एक सवाल के जवाब में डा. सिंह ने कहा कि अमूमन देखा जाता है कि हर प्रिप्सक्रिप्सन में गैस की दवा ऐड कर दी जाती है। यह सही नहीं है। इस कॉमन हैबिट को बंद करने की जरूरत है। जिसे गैस की प्रॉब्लम हो जरूर दवा दी जाए, लेकिन जिसे गैस की समस्या नहीं है उसे गैस की दवा देना स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ है।
*सेवा का बड़ा कार्य कर रहा है क्लीनिक ऑन स्क्रीन*
डा. आदित्यवर्द्धन ने कहा कि क्लीनिक ऑन स्क्रीन सेवा का बड़ा कार्य कर रहा है। क्लीनिक के निदेशक बाबू शक्ति सिंह के बड़े सोच के कारण गढ़वा जैसे इलाके में कई रोगां के सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टर आ रहे हैं एवं लोगों को चिकित्सीय लाभ पहुंचा रहे हैं। क्लीनिक ऑन स्क्रीन बड़े शहरां की तरह गढ़वा में एक बड़ा विकल्प के रूप में खड़ा हो रहा है। आने वाले समय में इस क्लीनिक से उन सारे रोगों का इलाज संभव होगा जो बाहर के बड़े-बड़े अस्पताल में मौजूद है।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!