विशुनपुरा । गढवा । बह रहा सड़क पर घरों का गंदा पानी,मूकदर्शक स्थनीय प्रखंड प्रशासन व जनप्रतिनिधि

Share

 

फोटो- जनप्रतिनिधि व प्रशासन की कार्यशैली को दर्शाता इस सड़क पर बहता घरों का गंदा पानी

 

विशुनपुरा । गढवा । प्रखंड़ के सबसे ब्यस्त चौक और शिक्षा का केंद्र बिंदु कहे जाने वाला अपर बाजार शंकर मोड़ के पास से गुजरने वाली सड़क पर घरों का गंदा पानी बहने से यह सड़क पर तालाब जैसा नजारा बना हुआ है। घरों से निकलने वाला गंदा व दूषित पानी यहां के रहने वाले ग्रामीण स्कूली बच्चे और राहगीरों की परेशानी का सबब बनता जा रहा है।

 

वहीं, आने-जाने वाले छात्र-छात्राएं भी खासे परेशान हैं। इससे बेखबर स्थनीय प्रखंड प्रशासन व जनप्रतिनिधि मूकदर्शक बने हुए हैं। बस्ती जाने वाले इस मार्ग में नाले का गंदा पानी सड़क पर बहने से स्थिति नारकीय हो गई है। इससे लोगों का पैदल चलना दूभर हो गया है, लेकिन इस नारकीय स्थिति से निजात दिलाने के लिए आज तक कोई सामने नहीं आया है। इससे बस्ती के लोगों में प्रशासन के प्रति खासा रोष है। ग्रामीण मनोज कुमार, आदित्य गुप्ता, पप्पू गुप्ता, रामाधार सोनी, नवल किशोर गुप्ता, प्रशांत गुप्ता, रंजन गुप्ता, उदय चौरसिया करीमन साह, मंटू प्रसाद गुप्ता राम जी साह, ने बताया कि यह बस्ती में जाने के लिए एक मात्र रास्ता है। इस रास्ते में गंदगी और कचरे का ढेर लगा है। ऐसा तब है जब प्रखंड कार्यालय स्वच्छता का ढिंढोरा पीट रहा है। इस मार्ग पर पैदल चलना मुश्किल है। कई बार तो लोग गिर जाते हैं। मार्ग पर गंदा पानी की समस्या होने से चलना दूभर हो गया है। आधे-अधूरे नाली निर्माण होने से गाव का पानी रोड पर भरा रहता है। इससे मार्ग पर गुजरने वाले लोगों को परेशानी हो रही है। साथ ही जलजमाव से ग्रामीणों को संक्रामक बीमारी फैलने का भय बना हुआ है।यह स्थिति पिछले कई वर्ष से बनी हुई है। लोगों का यह भी कहना था कि नाले का गंदा पानी बरसात के दिनों में बहकर उनके घरों में चला जाता है।

बस्ती जाने वाली सड़क पर घरों से निकलने वाला गंदा पानी सड़क पर ही बहता है। गाव में प्रवेश करने के मुख्य रास्ते में गंदगी है। स्थानीय जनप्रतिनिधि की पहल से इस नारकीय स्थिति से निजात दिलाई जा सकती है। पर, इस दिशा में आज तक किसी ने पहल नहीं की।

ग्रामीणों ने विधायक, मुखिया, सहित कई जनप्रतिनिधियों के साथ ही शासन-प्रशासन से भी इसकी कई बार शिकायत की है, लेकिन इसका हल नहीं निकल रहा है। इनकी लापरवाही और कार्य की उदासीनता का जीता जागता उदाहरण है यह समस्या।

आपको बताते चले कि एक समय था कि इस जगह पर शब्जी मार्केट लगा करता था लेकिन इस जगह अब लोगो के घरों का गंदा पानी के वजह से यहां से शब्जी मार्केट हट गया लोगो का इस जगह पर ठहराव बंद हो गया गली सुनसान लगने लगी यहां के दुकानदरों की दुकानदारी खत्म हो गई।

 

क्या कहा जनप्रतिनिधियों ने

मुखिया – विशुनपुरा पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि प्रवीण यादव ने इस संदर्भ में कहा कि नाली बनना चाहिए इसको लेकर ग्राम स्तरीय बैठक कर इसे बनाने की पहल की जरूरत है

जिला परिसद सदस्य शम्भू राम चंद्रवंशी ने कहा कि यह मुद्दा विशुनपुरा प्रखंड की सबसे महत्वपूर्ण समस्या में है इससे निजात पाने का हमसे जितना प्रयास होगा करेंगे। 


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!